Waste Management at Household Level In India ( घर के कूड़े – कचरे की व्यवस्था )

भारत में वैसे तो कई Dumping Ground हे ( जहाँ सभी जगह से कचरा इकठ्ठा करके कंपोस्ट किया जाता हे ) पर वही Dumping Ground की आज हालत इतनी ख़राब हे की कचरे का ढेर इतना बढ़ चूका हे की वह एक पर्वत के समान हो चूका हे. इसीलिए सरकार द्वारा कई प्रकार के स्वच्छता के अभियान भी चलाये जाते हे . एसे में हम सरकार  को कैसे मदद्नीय बन सकते हे जानते हे .

About Dumping Ground & Wastage :- 

download (2).jpg

  • आज की तारीख में Dumping Ground पहले से ही अधिक भरे हुए हे ओर ऐसे में उसमे रोज ओर कचरा डाला जाता हे .
  • Dumping Ground के आसपास का परिसर अस्वच्छ रहता हे ओर बदबू आती हे .
  • Dumping Ground के आसपास रहेने वाले लोगो में बीमारियों की संभावना भी बढ़ जाती हे .
  • हर घर से कचरा इकठ्ठा करके Dumping Ground तक ले जाने के लिए वाहन खर्च , पेट्रोल खर्च , कर्मचारी का खर्च , इत्यादि खर्च बढ़ जाते हे.
  • एसे में यह सब खर्च से बचने के लिए ओर कचरे का सही इस्तमाल कैसे करना चाहिए इसके लिए सरकार द्वारा लोगो में जाग्रति फेलाई जा रही हे .
  • सरकार द्वारा स्कूल , अस्पताल, छोटी-बड़ी रहने लायक सोसाइटीया इत्यादि जगह सरकार द्वारा कचरे की व्यवस्था कैसे की जनि चाहिए इसकी सुचनाए भी दी जाती हे .
  • आखिर कब तक कचरा ऐसे Dumping Ground में जाता रहेगा ओर उसमे सभी प्रकार के कचरे डाले जाते हे ओर उसे कंपोस्ट करने के लिए भी सालो लग जाते हे .
  • इसीलिए हाल ही में बड़े सोसाइटी के रहेवासी ओ को सरकार द्वारा कचरे के व्यवस्थापन की सूचना दी गयी हे. ओर सरकार द्वारा Dry Waste ही लिया जाएगा ओर Wet Waste का खाध बनाया जाए.

घर पर ही कचरे का व्यवस्थापन ( Waste Management at Household Level ) :-

compost-709020_960_720.jpg

  • सबसे पहले तो हो सके उतना कम कचरा करे. आप यही सोचोंगे वो कैसे तो जब सब्जियां या अन्य कोई वस्तु ए बाजार में खरीदने जाए तो यदि आपके पास पहले से ही थेली या जोला हे तो उसी का इस्तमाल करे .
  • kitchen में जब आप खाना बनाते हो तो जीतनी जरुरत हे उतना ही खाना बनाये यदि घर के एक-दो सदस्य बहार खाना खाने वाले हो तो उतना खाना कम बनाना चाहिए .
  • यदि खाना ज्यादा बन जाये तो ख़राब होने से पहले ही घर पे काम करने वाले लोगो को या अन्य जरुरतमंद को  दे देना चाहिए ताकि व्यर्थ ना हो.
  • गिला कचरा ( Wet Waste ) ओर सुका कचरा (Dry Waste) अलग रखना चाहिए .
  • गिला कचरे को हम कंपोस्ट करके खाध भी बना सकते हे .
  • सुका कचरे में Plastic वगेरा होता हे जो पिगलाने के लिए सालों लग जाते हे
  • आप घर पर ही या अपने बिल्डिंग में यदि कोई जगह हो तो आप वहां भी गिले कचरे से खाध बना सकते हे .
  • आप के घर में यदि कोई Electronic Wastage हो तो आप उसे Donate भी कर सकते हो ओर Electronic Wastage में इस्तमाल हुई धातु ओ का Recycle करके भी उसका इस्तमाल किया जा सकता हे .
  • आपके घर में यदि कुछ बिन जरुरी खिलोने , कपडे , फर्नीचर , आदि वस्तुए जो बिन जरुरी हो ओर आपके लिए Wastage हो आप उसका Donation भी कर सकते हो.
  • आप यदि कचरे में कांच वगेरा डाल रहे हो तो वो हो सके तो पेपर में लपेट कर डालना चाहिए ओर उसपे क्रॉस मार्क भी करना चाहिए ताकि कचरा उठाने वाली व्यक्तिओ को आसानी हो . ओर उसका Recycle भी अच्छे से हो .

Wet , Dry & Other Wastage :- 

Wet Waste :-

प्रकृति द्वारा बनायीं गयी वस्तुए Wet Wastage में शामिल की जाती हे. उदाहरन :- शाकभाजी ओ के छिलते , फल के छिलते, बनाया हुआ खाना, फ़ुल – हार इत्यादि. ( नारियल की कचली ओर पिस्ता के छिलते गिले कचरे में शामिल नहीं होते ताकि वह जल्दी से कंपोस्ट नहीं हो पाते .)

Dry Wastage :- 

जो वस्तुए मानव द्वारा बनायीं गयी हे वह सुके कचरे में शामिल होती हे. जैसे की प्लास्टिक के थेली , प्लास्टिक की बोतलें. ओर अन्य .

Other Wastage :- 

Electronic , Plastic Water Bottle , Glass आदि जिसका Reuse या Recycle हो सके तो वह भी अलग रखना चाहिए .

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

21 thoughts on “Waste Management at Household Level In India ( घर के कूड़े – कचरे की व्यवस्था )

Add yours

  1. Muito legal…..amei….aqui no Brasil….esses hábitos já poderiam estar bem melhores, mas o incentivo é pequeno…. na escola eu fazia oficina de reaproveitamento….era um sucesso….ensinava receitas usando talos e cascas..ensinava a fazer papel reciclado…
    ..fiz cursos para aprender….eram maravilhosos…..A reciclagem aqui funciona bem com as latinhas de refrigerante e suco…..dificilmente vemos latas jogadas nas ruas…..porque tem um certo valor na compra nos postos de coleta…

    Liked by 1 person

  2. हम सब अपना घर स्वच्छ रखते हैं और कचरा घर के बाहर डाल देते हैं क्योंकि बाहर की सफाई की ज़िम्मेदारी सरकार की है. यह सोच ही ग़लत है. ‘स्वच्छ भारत अभियान’ सफल नहीं हो सकता अगर आम नागरिक अपने घर के आस पास सफाई न रखे. आपके विचार उत्तम हैं. Waste management ‘स्वच्छ भारत अभियान’ का अभिन्न अंग है.

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

Blog at WordPress.com.

Up ↑

%d bloggers like this: